कैलिफोर्निया के फ्रेस्नो की रहने वाली अनन्या ने 12 घंटे की प्रतिस्पर्धा और 35 शब्दों का सही उच्चारण कर प्रतियोगिता में जीत हासिल की। ओकलाहोमा के रहने वाले भारतीय मूल के 14 वर्षीय रोहन राजीव दूसरे स्थान पर रहे।

वह अंतिम दौर में समुद्र तट पर पाई जाने वाली घास 'मैरम' का सही उच्चारण करने में चूक गए। अनन्या ने जीत के साथ इस प्रतियोगिता में भारतीयों के दबदबे को कायम रखा है। छठी कक्षा की छात्रा अनन्या ने ट्राफी लेने के बाद कहा, 'यह सपने के सच होने जैसा है। 

 
क्या है 
  1. अनन्या ने 36वें राउंड के दौरान 'मैरोकेन' का सही उच्चारण कर 90वीं चैंपियनशिप पर कब्जा किया। सिल्क या रेयान से बने कपड़े को 'मैरोकेन' कहते हैं।
  2. प्रतियोगिता के प्रारंभिक दौर में अमेरिका के 50 प्रांतों, प्यूर्टोरिको व गुआम जैसे क्षेत्रों के अलावा जापान और जमैका के 6-15 साल के 1.1 करोड़ प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया था। इनमें से 291 प्रतिभागियों में से अंतिम दौर में सिर्फ अनन्या और राजीव रह गए थे।
  3. 1925 से चल रही स्पेलिंग बी प्रतियोगिता में भारतीयों ने पिछले दस साल से अपना दबदबा बनाए रखा है। उन्होंने पिछले 17 साल में 14वीं बार इस प्रतियोगिता को जीता है। भारतवंशी छात्रों ने 2014, 2015 और 2016 में संयुक्त विजेता बनकर रिकार्ड बनाया था।