ईरान ने यूरोपीय नेतृत्व वाले नौसेना मिशन के ब्रिटिश प्रस्ताव पर निशाना साधते हुए उसे 'उकसावे' भरा कदम करार दिया। ब्रिटेन ने कहा था कि वह 19 जुलाई को ईरान द्वारा उसके तेल टैंकर को कब्जे में लेने के जवाब में यूरोपीय नेतृत्व वाले एक बल को खाड़ी भेजने पर विचार कर रहा है।
 
 
क्या है  
  1. समाचार एजेंसी 'आईएसएनए' ने सरकारी प्रवक्ता अली रबीई के हवाले से कहा, 'हमने सुना है कि वह अरब की खाड़ी में यूरोपीय बल भेजने वाले हैं, जो कि एक प्रतिकूल संदेश है, उकसावे भरा है और दोनों देशों के बीच तनाव को बढ़ाएगा।'
  2. ब्रिटेन द्वारा ईरान का एक तेल टैंकर पकड़े जाने के कुछ दिन बाद पलटवार करते हुए ईरान ने भी खाड़ी क्षेत्र में ब्रिटिश टैंकर को जब्त कर लिया। इसके बाद से ही दोनों देशों के बीच तनाव काफी बढ़ गया है। हालांकि ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी दोनों देशों के बीच तनाव को कम करने का संकेत दिया था। उन्होंने कहा था कि ईरान ब्रिटेन का टैंकर छोड़ सकता है लेकिन बदले में ब्रिटेन को भी जिब्राल्टर के तट से जब्त किए गए ईरानी जहाज को छोड़ना होगा।