ब्रिटिश प्रधानमंत्री टरीजा मे को सत्ताधारी कंजर्वेटिव पार्टी की नेता के तौर पर इस्तीफा दे दिया। मे के इस्तीफे ने नए प्रधानमंत्री का नाम तय करने के लिए होने वाले दिलचस्प मुकाबले का रास्ता साफ कर दिया है। नए प्रधानमंत्री के सामने ब्रेग्जिट (यूरोपीय संघ से ब्रिटेन का बाहर निकलना) के बाबत ब्रिटेन और यूरोपीय संघ (ईयू) के बीच बातचीत को मुकाम तक पहुंचाने की चुनौती होगी। अपने ब्रेक्जिट करार की बार-बार की नाकामी को लेकर बढ़ते दबाव के बीच टेरेसा मे ने अपना पद छोड़ने का ऐलान किया था।
 
क्या है  
  1. कंजर्वेटिव पार्टी की ओर से टरीजा का उत्तराधिकारी चुने जाने तक वह कार्यवाहक प्रधानमंत्री के तौर पर कामकाज संभालेंगी। कंजर्वेटिव पार्टी का नया नेता प्रधानमंत्री नियुक्त किया जाएगा। 
  2. प्रधानमंत्री पद छोड़ने की मंशा जाहिर करने के करीब दो हफ्ते बाद टरीजा (62) ने 1922 समिति को अपना त्याग-पत्र सौंपा है।
  3. समिति ने कहा कि अब वह पार्टी के अगले नेता के तौर पर चुने जाने के लिए खड़े होना चाह रहे कंजर्वेटिव सांसदों से नामांकन-पत्र आमंत्रित करेगी। 
  4. पूर्व विदेश मंत्री बोरिस जॉनसन सहित 11 लोग कंजर्वेटिव पार्टी के नए नेता की रेस में आगे बताए जा रहे हैं। मौजूदा विदेश मंत्री जेरेमी हंट और पर्यावरण मंत्री माइकल गव भी रेस में हैं। 
  5. इस मुकाबले के विजेता की घोषणा जुलाई के चौथे हफ्ते में संभव है। टोरी के मतदान की औपचारिक प्रक्रिया 10 जून 2019 सुबह को शुरू होगी।

Print Friendly, PDF & Email