नौसेना ने मध्यम दूरी की सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल का सफल परीक्षण किया। युद्धपोत से छोड़ी जाने वाली यह मिसाइल दुश्मन की मिसाइल को हवा में ही मार गिराने में सक्षम होगी। इससे नौसेना को अपनी आवश्यकता के अनुसार हवा में कार्रवाई करने की काबिलियत हासिल हो गई। यह परीक्षण पश्चिमी समुद्री इलाके में भारतीय नौसेना के युद्धपोतों से किया गया। इस तरह की मिसाइल दुनिया की चुनिंदा नौसेनाओं के पास हैं
 
 
क्या है 
  1. रक्षा मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा है कि नौसेना ने हवा में जवाबी कार्रवाई करने की महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल की है। विभिन्न विभागों के बेहतर तालमेल से यह उपलब्धि हासिल हुई। 
  2. इसमें भारतीय नौसेना, रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) और इजरायल एयरोस्पेस इंडस्ट्रीज ने भाग लिया
  3. डीआरडीओ ने इजरायल एयरोस्पेस इंडस्ट्रीज के साथ मिलकर यह मिसाइल विकसित की है। मिसाइल को भारत डायनामिक्स लिमिटेड ने बनाया है। 
  4. इस मिसाइल को देश के सभी बड़े युद्धपोतों पर तैनात किया जाएगा। इससे भारतीय नौसेना की युद्धक क्षमता में इजाफा होगा।

Print Friendly, PDF & Email