दक्षिणी सूडान के संयुक्त राष्ट्र मिशन (यूएनएमआईएसएस) में सेवा दे रहे कुल 150 भारतीय शांतिरक्षकों को उनके बलिदान और समर्पण के लिए पदक देकर सम्मानित किया गया है। संयुक्त राष्ट्र मिशन ने परेड में भाग लेने वाले और उत्कृष्ट सेवा के लिए पदक प्राप्त करते भारतीय शांतिरक्षकों की तस्वीर के साथ ट्वीट किया, 'संयुक्त राष्ट्र ब्लू बेरेट में बलिदान एवं समर्पित सेवा से परे की झलक - मलाकल में पदकों से सम्मानित किए जा रहे भारतीय शांतिरक्षक।
 
क्या है   
  1. यूएनएमआईएसएस में सेवा दे रहे 150 भारतीय शांतिरक्षकों को एक समारोह के दौरान यह पदक दिया गया। मलाकल में यूएनएमआईएसएस में तैनात कर्नल अमित गुप्ता पदक पाने वालों में शामिल थे। यूएनएमआईएसएस के एक समाचार लेख में बताया गया कि गुप्ता दक्षिण सूडान के ऊपरी नील क्षेत्र में 850 सैनिकों की बटालियन की कमान संभालते हैं। 
  2. उनकी कमान के तहत सैनिक वेटरिनेरी शिविरों का आयोजन करने के साथ ही मलाकल में एक वेटरिनेरी अस्पताल भी चलाते हैं और कोडोक में बन रहे एक अन्य अस्पताल के जल्द ही पूरा होने की संभावना है। लेख में गुप्ता के हवाले से कहा गया, 'मैं दक्षिण सूडान के लोगों के लिए सकारात्मक यादें छोड़ जाने वाले के तौर पर याद किया जाना चाहता हूं।' 
  3. उन्होंने कहा, 'मैं उन्हें बेहतर जगह पर छोड़ कर जाना चाहता हूं जहां वे अपने लिए आय के इंतजाम कर सकें और अपने देश का निर्माण कर पाएं।' 

[printfriendly]