प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी ने नई दिल्‍ली स्थित विज्ञान भवन में विजेताओं को ‘राष्ट्रीय युवा संसद महोत्सव 2019 पुरस्कार’ प्रदान किए। राष्ट्रीय युवा संसद महोत्सव के राष्ट्रीय स्तर के फाइनल का समापन नई दिल्‍ली में हुआ। राष्‍ट्रीय स्‍तर की स्‍पर्धा की विजेताओं में महाराष्‍ट्र की श्‍वेता उमरे (प्रथम स्‍थान), कर्नाटक की अंजनाक्षी एम.एस (द्वितीय स्थान) और बिहार की ममता कुमारी (तृतीय स्थान) शामिल हैं। प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर ‘खेलो इंडिया’ एप भी लांच किया जिसे युवा मामले एवं खेल मंत्रालय के अधीनस्‍थ भारतीय खेल प्राधिकरण ने विकसित किया है। इस एप का उपयोग अन्‍य कार्यों के अलावा देश में विभिन्‍न खेल स्‍थलों, उनकी उपलब्‍धता, खेल के नियमों और किसी भी व्‍यक्ति की फिटनेस का पता लगाने में किया जा सकता है।
 
क्या है 
  1. राष्‍ट्रीय युवा संसद महोत्‍सव 2019 का आयोजन युवा मामले एवं खेल मंत्रालय के तत्‍वावधान में नेशनल सर्विस स्‍कीम और नेहरू युवा केन्‍द्र संगठन (एनवाईकेएस) द्वारा संयुक्‍त रूप से किया गया। 
  2. 18-25 वर्ष के आयु वर्ग के युवाओं को जिला, राज्‍य एवं राष्‍ट्रीय स्‍तर की युवा संसदों में शिरकत करने के लिए आमंत्रित किया गया। राष्‍ट्रीय युवा संसद महोत्‍सव 2019 का आयोजन जिला एवं राज्‍य स्‍तरों पर किया गया। 
  3. जिला युवा संसद (डीवाईपी) के लिए प्रतिभागियों का चयन 24-28 जनवरी के दौरान देश भर में 471 निर्दिष्‍ट जिलों के प्रमुख संस्‍थानों में दो जांच प्रक्रियाओं यथा डिजिटल एवं वाक-इन स्‍क्रीनिंग के जरिए किया गया। 
  4. प्रत्‍येक जिला युवा संसद में ज्‍यूरी द्वारा चयनित सर्वोत्तम तीन वक्‍ताओं ने राज्‍य युवा संसद (एसवाईपी) में भाग लिया। वहीं, प्रत्‍येक एसवाईपी में चयनित दो सर्वोत्तम वक्‍ताओं ने राष्‍ट्रीय युवा संसद (एनवाईपी) में वक्‍ताओं के रूप में भाग लिया। 
  5. एनवाईपी के लिए 56 अंतिम प्रतिभागियों का चयन करने के उद्देश्‍य से देश भर में 5-7 फरवरी के दौरान कुल मिलाकर 28 राज्‍य युवा संसदों का आयोजन किया गया। युवा संसदों के जरिए सभी स्‍तरों पर 50,000 से भी अधिक युवाओं ने भाग लिया।