वैज्ञानिकों ने सुदूर अंतरिक्ष में एक ग्रह की खोज की है, जो बैलून की तरह फूला हुआ है। इस ग्रह के वातावरण में हीलियम गैस भरी हुई है। यह पृथ्वी से लगभग 124 प्रकाश वर्ष दूर है। इस ग्रह की खोज खगोलविदों के एक अंतरराष्ट्रीय दल ने स्विट्जरलैंड स्थित जिनेवा यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों की अगुआई में की है। खोजकर्ताओं के अनुसार, इस ग्रह पर मौजूद निष्क्रिय हीलियम गैस एक बादल की शक्ल में उसके वातावरण से उसी तरह दूर जा रही है, जैसे किसी व्यक्ति के हाथ से छूटने के बाद हीलियम से भरा गुब्बारा उड़ सकता है।
 
क्या है  
  1. एक्सेटर यूनिवर्सिटी में भौतिकी और खगोलविज्ञान विभाग की शोधकर्ता डॉ. जेसिका स्पेक ने कहा, यह वास्तव में एक रोमांचक खोज है। खासकर इसलिए क्योंकि इस साल की शुरुआत में ही सौरमंडल के बाहर के ग्रह के वातावरण में हीलियम की खोज की गई। 
  2. उन्होंने कहा, हमारे अध्ययन से साफ हुआ कि इस ग्रह के केंद्रीय तारे से निकलने वाले विकिरण के कारण इससे हीलियम गैस निकलकर दूर जा रही है।   
  3. खोजकर्ताओं ने उम्मीद जताई कि इस ग्रह के अध्ययन से पता लगाने में मदद मिलेगी कि किस प्रकार के ग्रहों के पास हाइड्रोजन और हीलियम गैसों का आवरण होता है और कितेन समय तक वे अपने वातावरण में इस प्रकार की गैसों को बांधकर रख पाते हैं। 
  4. यह ग्रह नेप्च्यून के बराबर आकार का है और इसको ‘एचएटी-पी -11 बी’ नाम दिया गया है। यह  सिग्नस (जायरा) नक्षत्रमंडल में अवस्थित है। 

[printfriendly]