फोर्ब्स की ग्लोबल 2000 बेस्ट एम्प्लॉयर्स सूची में शीर्ष 25 ग्लोबल कंपनियों में भारत की सिर्फ एक कंपनी लार्सन एंड टुब्रो को 22वां स्थान मिला है। इस सूची में शीर्ष पर गूगल की पैरेंट कंपनी अल्फाबेट है
वैसे इस सूची में शीर्ष 25 कंपनियों में सिर्फ एलएंडटी को स्थान मिला है। लेकिन शीर्ष 100 कंपनियों में महिंद्रा एंड महिंद्रा 55वें, ग्रासिम इंडस्ट्रीज 59वें और एचडीएफसी 91वें स्थान पर रही। अमेरिकी मैगजीन की समूची सूची में भारत की सिर्फ 24 कंपनियों को स्थान मिला है
 
क्या है 
  1. अल्फाबेट इस सूची में शीर्ष पर लगातार दूसरे साल बने रहने में कामयाब रही। दूसरे स्थान पर माइक्रोसॉफ्ट रही। शीर्ष दस कंपनियों में छह अमेरिका की ही हैं। 
  2. सूची में जिन 24 घरेलू कंपनियों को स्थान मिला है, उनमें सरकारी क्षेत्र की जनरल इंश्योरेंस कंपनी (जीआइसी) की रैंकिंग 106 रही। इसके अलावा आइटीसी 108, सेल 139, सन फार्मा 172, एशियन पेंट्स 179 और एचडीएफसी बैंक 183 रैंकिंग पर रहा। 
  3. अडानी पोर्ट्स 201, जेएसडब्ल्यू स्टील 207, कोटक महिंद्रा बैंक 253, हीरो मोटोकॉर्प 295, टेक महिंद्रा 351, आइसीआइसीआइ बैंक 359, विप्रो 362, हिंडाल्को 378, एसबीआइ 381, बजाज ऑटो 417, टाटा मोटर्स 437, पावर फाइनेंस कॉरपोरेशन 479, एक्सिस बैंक 481, इंडियन ओवरसीज बैंक 489 रैंकिंग पर रहे। 
  4. शीर्ष दस कंपनियों में अमेरिका की एपल तीसरे, वाल्ट डिज्नी कंपनी चौथे, अमेजन पांचवें और केलगेनी कॉरपोरेशन नौवें पायदान पर रही।
  5. फोर्ब्स के अनुसार इस सूची को तैयार करने के लिए 4.30 लाख सिफारिशों का विश्लेषण किया गया था। यह रैंकिंग कर्मचारियों द्वारा अपने सेवायोजक के बारे में अपने मित्र या परिवारीजन को दिए गए फीडबैक पर आधारित है। 
  6. फोर्ब्स 2018 ग्लोबल 2000 सूची में शामिल कंपनियां 60 देशों में सूचीबद्ध हैं और उनका कुल कारोबार 39.1 ट्रिलियन डॉलर है। 

 

Print Friendly, PDF & Email