नीति आयोग और आईबीएम ने 11 अक्टूबर 2018 को अटल इनोवेशन मिशन (एआईएम) के तहत चुने गए छात्रों के लिए इंटर्नशिप कार्यक्रम की घोषणा की। इस इंटर्नशिप कार्यक्रम के तहत 38 छात्रों को दो सप्ताह का देय इंटर्नशिप मिलेगा, और अटल विचार लैब (एटीएल) के 14 शिक्षकों को भी विभिन्न राज्यों जैसे असम, हिमाचल प्रदेश, अंडमान और निकोबार और अन्य राज्यों से चुना गया है, वे सब एक जगह एकत्रित हो अपने विचारों, सहयोग और नये-नये आयामों पर चर्चा करेंगे। इन छात्रों को कृत्रिम बौद्धिकता, इंटरनेट के बारे में, साइबर सुरक्षा, क्लाउड कंप्यूटिंग और ब्लॉकचेन जैसे क्षेत्रों में नए करियर के लिए कौशल सिखाया जाएगा। उभरती प्रौद्योगिकियों में प्रशिक्षित करने के अलावा, छात्रों को संकट के समय कार्यस्थल पर कौशल के बारे में भी प्रशिक्षित किया जाएगा
 
क्या है 
  1. इस कार्यक्रम के तहत, एटीएल के चयनित शिक्षकों को भी आईबीएम स्वयंसेवकों और सलाहकारों द्वारा प्रशिक्षित किया जाएगा ताकि वे नवाचार कोच बन सकें। 
  2. दो सप्ताह का कार्यक्रम इस तरह तैयार किया गया है ताकि छात्र कॉर्पोरेट वातावरण का अनुभव कर सकें और साथ ही उन्हें नई प्रौद्योगिकियों के बारे में जानने का भी मौका मिले। 
  3. इस कार्यक्रम को और मजबूती देने के उद्देश्य से, शीर्ष प्रदर्शन करने वाले छात्रों को उनके तकनीकी कौशल को मजबूत करने और भविष्य की नौकरी के लिए तैयार किया जाएगा।
  4. अटल इनोवेशन मिशन ने 2017 में अटल टिंकरिंग मैराथन का आयोजन किया जहां पांच क्षेत्रों- एग्रीटेक, स्वास्थ्य, स्मार्ट मोबिलिटी, स्वच्छ ऊर्जा, अपशिष्ट प्रबंधन, जल प्रबंधन - के शीर्ष 30 नवाचारों की पहचान की गई।
  5. शीर्ष 30 टीमों के छात्रों को विभिन्न अवसरों जैसे छात्र नवप्रवर्तन (इनोवेटर) कार्यक्रम, भागीदार उद्योग जगत के साथ एटीएल बूटकैम्प, विश्व रोबोट ओलंपियाड (डब्लूआरओ) जैसे वैश्विक नवाचार प्रतियोगिताओं में भाग लेने का अवसर, और आईबीएम इंडिया के बेंगलूरू परिसर में इंटर्नशिप की पेशकश की गई है।
  6. आईबीएम इंटर्नशिप कार्यक्रम छात्रों के कौशल को विभिन्न नये गतिविधियों जैसे डिज़ाइन के लिए नए दृष्टिकोण, प्रोटोटाइप विकसित करने और समुदाय के मुद्दों के समाधान तथा उन्हें हल करने के लिए बढ़ाने पर केंद्रित है।

 

Print Friendly, PDF & Email